कार्यालय आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता, उत्तर प्रदेश



अपेक्षित सूचनाऐ एक नजर में


1- विभाग का संगठन एवं का कार्य
2- विभाग के अधिकारियों एवं कार्मिकों के कर्तव्यों एवं उत्तरदायित्
3- विभाग मे सम्पादित किये जा रहे कार्यो के सम्बन्ध मे
4- विभाग के कार्या को सम्पादित करने हेतु निर्धारित प्राविधान नार्म
5- नियम अधिनियम तथा उक्त हेतु विभाग मे उपलब्ध मैनुअल अभिलेख
6- विभाग के नियत्रणाधीन विभिन्न प्रकार के अभिलेख एवं प्रकाशन
7- विभाग की सहकारी समितियों का निर्वाचन एवं प्रबन्धन
8- परिषदीय कमेटी
9- विभाग के अधिकारियों की अनुक्रमाणिका
10- अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा प्राप्त मासिक पारिश्रमिक का निर्धारण
11- कार्यालय को आबंटित बजट का विवरण
12- अनुदान राज्य सहायता कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की रीति
13- रियायतों अनुज्ञापत्रों तथा प्राधिकारों के प्राप्तिकर्ताओं के सम्बन्ध मे
14- इलेक्ट्रानिक्स माध्यम पर उपलब्ध सूचनाये
15- सूचना प्राप्त करने के लिए उपलब्ध सूचनाओं का विवरण
16- जन सूचना अधिकारी का नाम, पदनाम तथा विवरण

सूचना अधिकार अधिनियम 2005 की धारा 4 (1)(बी) के अन्तर्गत अपेक्षित सूचनाऐ


बिन्दु संख्या-1

विभाग का संगठन एवं का कार्य भारत के ग्रामीण अंचलो में सहकारी आन्दोलन का शुभारम्भ करते हुए सहकारिता के माध्यम से आसान शर्तो पर कर्ज दिलाने की व्यवस्था की अधिकारिक रूप से शुरूआत वर्ष 1904 में हुई आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-2

विभाग के अधिकारियों एवं कार्मिकों के कर्तव्यों एवं उत्तरदायित् सहकारी समितियों के निबन्धन एवं समग्र विकास हेतु शासन द्वारा उ0प्र0 सहकारी समिति अधिनियम 1965 की धारा-3(1) के अधीन निबन्धक की नियुक्ति की गई है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-3

विभाग मे सम्पादित किये जा रहे कार्यो के सम्बन्ध मे विभाग मे सहकारी अधिनियम नियम एवं समय-समय पर घोषित शासकीय नीतियों के रहते पर्यवेक्षण की व्यवस्था न्याय पंचायत स्तर/विकास खण्ड स्तर तक है। आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-4

विभाग के कार्या को सम्पादित करने हेतु निर्धारित प्राविधान नार्म अंगीकृत सहकारी अधिनियम 1965,1968 व समय-समय पर राज्य सरकार द्वारा निर्धारित मापदण्डो को दृष्टिगत रखते हुए क्रियाओं का निष्पादन किया जाता है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-5

नियम अधिनियम तथा उक्त हेतु विभाग मे उपलब्ध मैनुअल अभिलेख सहकारिता विभाग द्वारा सम्पादित किये जाने वाले समस्त क्रिया-कलाप उत्तर प्रदेश सहकारी अधिनियम-1965 एवं उसकं अन्तर्गत राज्य सरकार द्वारा बनायी गयी आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-6

विभाग के नियत्रणाधीन विभिन्न प्रकार के अभिलेख एवं प्रकाशन सहकारिता विभाग के नियत्रंणाधीन विभिन्न प्रकार के अभिलेख एवं प्रकाशन है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-7

विभाग की सहकारी समितियों का निर्वाचन एवं प्रबन्धन सहकारिता विभाग के अन्तर्गत सहकारी समितियों का त्रिस्तरीय ढॅाचा है प्रारम्भिक न्याय पंचायत स्तर पर, केन्द्रीय जिला स्तर पर तथा शीर्ष संस्थाये राज्य स्तर पर गठित है। आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-8

परिषदीय कमेटी सहकारिता विभाग में कोई परिषदीय कमेटी गठित नहीं है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-9

विभाग के अधिकारियों की अनुक्रमाणिका आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-10

अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा प्राप्त मासिक पारिश्रमिक का निर्धारण अधिकारी एवं कार्मिकों द्वारा प्राप्त मासिक पारिश्रमिक और उनके निर्धारण की पद्धति आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-11

कार्यालय को आबंटित बजट का विवरण प्राविधानित बजट का विवरण आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-12

अनुदान राज्य सहायता कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की रीति सहकारिता विभाग के वित्तीय वर्ष- में आय-व्ययक, स्वीकृतियां एवं व्यय की योजनावार स्थिति आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-13

रियायतों अनुज्ञापत्रों तथा प्राधिकारों के प्राप्तिकर्ताओं के सम्बन्ध मे इस सम्बन्ध में कोई कार्यवाई परिवर्तनीय नहीं है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-14

इलेक्ट्रानिक्स माध्यम पर उपलब्ध सूचनाये इलेक्ट्रानिक्स माध्यम पर इन्टरनेट पर सहकारिता विभाग की महत्वपूर्ण सूचनाऐ उपलब्ध है वेबसाइट का पता http://cooperative.up.nic.in है आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-15

सूचना प्राप्त करने के लिए उपलब्ध सूचनाओं का विवरण परिपत्र सं0-सी-8/ज0सू0प्र0/फा-15/3/दिनांक-09-09-2016 द्वारा नामित जनसूचना अधिकारी आगे पढ़ें..

बिन्दु संख्या-16

अनुदान राज्य सहायता कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की रीति सहकारिता विभाग के वित्तीय वर्ष- में आय-व्ययक, स्वीकृतियां एवं व्यय की योजनावार स्थिति आगे पढ़ें..


अपीलीय अधिकारियों एवं जनसूचना अधिकारियों हेतु मार्गदर्शिका